CM को ऐसा महसूस हुआ होगा कि उन्हे धक्का लगा? रहस्य गहराया, बयान से पलटे डॉक्टर ने अब क्या कहा?

0

CM को ऐसा महसूस हुआ होगा कि उन्हे धक्का लगा? रहस्य गहराया, बयान से पलटे डॉक्टर ने अब क्या कहा?

 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कालीघाट स्थित उनके घर पर पीछे से धक्का दिए जाने के बाद उनके माथे और नाक पर चोट लगने की बात सामने आने के एक दिन बाद, शुक्रवार (15 मार्च) को एसएसकेएम अस्पताल की निदेशक मनिमा बंद्योपाध्याय ने स्पष्ट बताया कि उनका क्या मतलब था: कि मुख्यमंत्री को धक्का लगने का एहसास हुआ होगा.

ममता बनर्जी के सिर में टांके आये

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) नेता ममता बनर्जी (69) गुरुवार शाम कालीघाट में अपने घर पर गिर गईं, जिससे उनके माथे और नाक पर गंभीर चोटें आईं। फिर उन्हें सरकारी एसएसकेएम (सेठ सुखलाल करनानी मेमोरियल) अस्पताल ले जाया गया, जहां उन्हें टांके लगाए गए और मेडिकल जांच की गई। बाद में डॉक्टरों ने उन्हें घर जाने की इजाजत दे दी.

एसएसकेएम अस्पताल के निदेशक मणिमोय बंद्योपाध्याय ने कहा, ‘‘वह पीछे से धक्का लगने के अहसास के कारण (मुख्यमंत्री ममता बनर्जी) गिरीं. हमारा काम इलाज करना है और हमने वह किया है. मैंने कल शाम जो कहा, उसका गलत मतलब निकाला गया.’’ एसएसकेएम के निदेशक ने गुरुवार (14 मार्च) शाम को कहा था कि सीएम ममता बनर्जी पीछे से कोई धक्का लगने के कारण अपने आवास में गिर गई थीं.

एसएसकेएम अस्पताल के डॉक्टर ने क्या कहा?

बंद्योपाध्याय के पीछे से धक्का लगने की बात ने तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो के गिरने के कारण को लेकर बड़े पैमाने पर भ्रम और अटकलों को जन्म दे दिया. सीएम ममता बनर्जी के माथे पर तीन टांके और नाक पर एक टांका लगाया गया. अस्पताल में उनके सिर की रेडियो इमेजिंग और ईसीजी सहित आवश्यक चिकित्सकीय जांच किए जाने के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई.

एसएसकेएम अस्पताल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ममता बनर्जी को आराम करने की सलाह दी गई है और आज सुबह उनकी स्थिति चिकित्सकीय रूप से स्थिर बताई गई, जिसके बाद डॉक्टर्स ने कहा कि वे दिन में उनकी कुछ नियमित जांच करेंगे. अधिकारी ने कहा, ‘‘उनका स्वास्थ्य स्थिर है. उन्हें रात में अच्छी नींद आई और वरिष्ठ डॉक्टर्स ने इस दौरान उनकी स्थिति पर नजर रखी. उनके स्वास्थ्य की दोबारा जांच की जाएगी.’’

सीएम ममता बनर्जी की सुरक्षा बढ़ाई गई

मुख्यमंत्री के गिरने के कारण को लेकर लगाई जा रही अटकलों के बारे में सवाल किए जाने पर एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री के गिरने के संबंध में अभी तक कोई शिकायत दर्ज नहीं कराई गई है, लेकिन हमने ममता बनर्जी के आवास और उसके आसपास सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है.’’

सीएम ममता बनर्जी को जेड प्लस श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई है और अधिकारियों का एक विशेष दल उनकी सुरक्षा और यहां तक कि उनके आवास की निगरानी करता है. टीएमसी ने गुरुवार शाम को कुछ तस्वीरें शेयर की थीं, जिनमें ममता बनर्जी के माथे से खून बहता दिख रहा है. पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.